ਸ਼ਤੀਸ ਕੋਲ ਦਾ ਕਰੋੜਾ ਪਤੀ ਤੋ ਕੰਗਾਲ ਹੋਣ ਦਾ ਅਸਲ ਕਾਰਨ ਕੀ ਹੈ ? ਦੇਖੋ ਸਚਾਈ……

Share

ਸ਼ਤੀਸ ਕੋਲ ਦਾ ਕਰੋੜਾ ਪਤੀ ਤੋ ਕੰਗਾਲ ਹੋਣ ਦਾ ਅਸਲ ਕਾਰਨ ਕੀ ਹੈ ? ਦੇਖੋ ਸਚਾਈ……

‘300 से ज्यादा फिल्में कर चुका ये अभिनेता मर रहा है, कोई देखने वाला नहीं’
सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
अभिनेता अमिताभ बच्चन, दिलीप कुमार से लेकर शाहरुख गोविंदा तक के साथ काम कर चुके इस अभिनेता की कहानी आज ऐसी है, जो किसी को भी रुला दे।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
बात हो रही है, अभिनेता सतीश कौल की। सतीश कौल पिछले तीन साल से बिस्तर पर हैं। पंजाबी फिल्मों के दिग्गज कॉमेडियन मेहर मित्तल की मौत के बाद क्रिकेटर युवराज के पिता योगराज सिंह भी सतीश कौल के समर्थन में उतर आए।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
वीडियो जारी कर उन्होंने लोगों को तीखे शब्दों में कहा, कि 300 से ज्यादा फिल्में कर चुका ये अभिनेता मर रहा है, कोई देखने वाला नहीं। मेहर मित्तल चला गया, ये भी मर जाएगा। जब तक आदमी जिंदा हो, कोई पूछता नहीं, जब मर गया, तब कहोगे कि इंडस्ट्री को नुकसान हो गया। इंडस्ट्री वालों, अगर थोड़ी भी शर्म है तो इसकी मदद करो।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
सतीश कौल आज अपनी जिंदगी बेहद तंगी में गुजार रहे हैं। सतीश कभी हिंदी और पंजाबी फिल्मों में जाना-पहचाना नाम हुआ करते थे। 1974 से 1998 तक सतीश ने 300 से ज्यादा फिल्मों में काम करने वाले सतीश को उस जमाने में बिना मांगे काम मिलता था, आज खुशामद करने से भी कोई नहीं लेता।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
दरअसल सतीश के पास जो जमा-पूंजी थी वो एक बिजनेस में डूब गए। इसके बाद उनकी हालत कुछ महीने पहले ऐसी बिगड़ी कि अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में भर्ती सतीश के पास इलाज के भी पैसे नहीं थे, बात मीडिया में आई तो फिल्म इंडस्ट्री के कुछ लोगों ने उनको मदद की।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
अपनी मुफलिसी पर सतीश ने कहते हैं कि मैंने एक्टिंग स्कूल खोला था, लेकिन स्कूल नहीं चला और मेरे 22 लाख रुपए डूब गए।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
लोगों से खुद की मदद की अपील भी करते हुए सतीश कहते हैं, ‘पटियाला यूनिवर्सिटी और एसपी अग्रवाल से हर महीने मदद मिलती थी, लेकिन कुछ महीनों से वो मदद भी बंद है।

दंगल
अब जो लोग मिलने आते हैं, उनके दिए पैसे से गुजारा कर रहा हूं’ अब हालत यह है कि बीते दिनों आमिर खान की फिल्म ‘दंगल’ के लिए ऑडिशन दिया था। उस ऑडिशन का नतीजा अभी तक नहीं निकला है।

सतीश कौल की दर्दनाक कहानी
कर्मा, आंटी नंबर वन, याराना और ऐलान जैसी फिल्मों में काम करने वाले सतीश आज सिर्फ इतना कहकर चुप हो जाते हैं, ‘बढ़ती उम्र और बीमारियों से खस्ताहाल हूं। आर्थिक तंगी से गुजर रहा हूं’

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *